Khabar Bhojpuri
भोजपुरी के एक मात्र न्यूज़ पोर्टल।

रूस-यूक्रेन युद्ध- एगो छोटहन विश्लेषण

दुनिया के सबसे ताकतवर देसन में से एगो हs रूस, अलग-थलग पड़ल यूक्रेन

419

दुनिया के सबसे ताकतवर देसन में से एगो हs रूस

रूस दुनिया के कबो बेताज बादशाह रहल बा, आज जवना भूमिका में अमेरिका लउकेला ओह भूमिका के पहिले रूस निभावल करे। समे का संगे रूस के मय बड़ देस भलहीं गते-गते एगो किनार पs ठाड़ कs दिहल बाकिर रूस के ताकत आजो कम नइखे भइल। आज जब यूक्रेन के नाटो देसन के समूह में घुसावे के कोसिस होत रहल हs, तs रूस के कुछ हद ले ई मजबुरी बन गइल रहल कि ऊ एह डेग के उठावे, काहेकि  जदि यूक्रेन नाटो में सामिल हो जाइत तs नाटो,अमेरिका आ आउर यूरोप के देसन के जंगी मिसाइल आ टैंक रूस के बार्डर पs हमेसा ला ठाड़ हो जाइत। रूस के एह तरे आगे जरूरत पडला पs घेरल जा सकत रहल हs, जवन रूस बरदास्त नइखे कs सकत। रूस के ई कदम ओकर ओह पहचान के बचावे के एगो डेग हs, जवना में ओकर गिनती देस के सबसे ताकतवर देसन में होत आइल बा।

 

NATO के अगिलका डेग से का फरक पड़ी?

24 फरवरी के रूस यूक्रेन पs सैन्य कारवाई सुर कइलस आ यूक्रेन के डोनबास इलाका में घुसल। रूस के सेना के कारवाई करे से पहिले नाटो यूक्रेन के हर तरे से साथ देवे के भरोसा देत आइल रहल हs। रूस आ यूक्रेन के बीचे एह जुद्ध के सुरू होखे के पाछे सबसे बड़ वजे नाटो के मानल जा रहल बा। ओइसे अभी ले नाटो में सामिल होखला के लेके यूक्रेन कवनों फसिला ना लेले रहे। अमेरिका के संगे अउरी पछिम के देस रूस के एह डेग के आलोचना करत ओकरा पs प्रतिबंध लगावे के बात कs रहल बा। बाकिर कवनो देस यूक्रेन के सीधा तौर पs आ जमीन पs जाके रूस के खिलाफ सहजोग करे के बात ले नइखे करत। रिपोर्टन के मानल जाव तs रूस समूचा यूक्रेन पs कब्जा ना करी बलुक ओजा के सरकार अस्थिर करी आ ओकर नाटो में घुसे के कोसिसन के कमजोर करी। रूस अपना सुरूआती मकसद में कामयाब लउकत बा। कुल मिला के नाटो के आर्थिक प्रतिबंध से रूस पs खास फरक पड़त नइखे लउकत।

नाटो के मिलिट्री चीफ के एह बेयान का बाद कि यूक्रेन हमरा संगठन के सदस्य ना हs। एकरा कारणे, हम ओकर सीधा सेना के लेके मदद नइखी कs सकत। बाकिर एकरा आलावे कव गो रस्ता बा आ यूक्रेन के ओह रस्तन से मदद पहुंचावल जात बा।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन कहले कि उनकर पुतिन से बात करे के कवनो योजना नइखे। रूस समूचा दुनिया के खतरा में डाल देले बा। रूस के फाइनेंसियल सिस्टम के एकर नुकसान उठावे के पड़ी। ब्रिटेनो एहि तरे के डेग उठवले बा।

 

नाटो का हs?

NATO (NORTH ATLANTIC TREATY ORGANISATION), एगो उत्तरी अमेरिका आ यूरोप के देसन के समूह हs। एह संगठन के स्थापना 1949 में भइल रहे। ए घरी एकर 30 गो देस सदस्य बा। नाटो के मकसद अपना सदस्य देसन के राजनैतिक आ सैन्य सुरक्षा देवल बा।

 

का काम करेला नाटो? 

एमे सामिल देसन के सुरक्षा देवे के नियम बा। एकरा तहत जदि कवनो बहरी देस एह संगठन के कवनो सदस्य देस पs हमला करत बा तs बकिये देस ओकर रक्षा करी। रउआ सभे के मालूम होखे के चाहीं कि यूक्रेन नाटो के सदस्य ना हs, एहि से ई संगठन के अपना आपके एह जुद्ध में सीधा तौर पs सोझा नइखे ले आ सकत।

 

कवन-कवन देस नाटो के सदस्य बा? 

बेल्जियन, कैनेडा, डेनमार्क, फ्रांस, आइसलैंड, इटली, लक्समबॉर्ग, नीदरलैंड, नॉर्वे, पुर्तगाल, यूके, यूएस, ग्रीस, तुर्की, जर्मनी, स्पेन, चेक गणतंत्र, हंगरी, पॉलैंड, बलगैरिया, इस्टोनिया, लातविया, इथुआनिया, रोमानिया, स्लोवाकिया और स्लोवेनिया, अल्बानिया और क्रोएशिया, मोंटेनेग्रो और उत्तरी मैसेडोनिया।

 

यूक्रेन के सोझा अब आपन बचाव खातिर कवन रस्ता बांचल बा?

यूक्रेन के अमेरिका आ नाटो देसन से उमिद के आस अब टुटत नजर आ रहल बा। रूस यूक्रेन के पूरा तरे तबाह कs देले बा आ यूक्रेन के अब कवनो देस साथ देत नइखे लउकत जवना से उ अब खुद के अकेला महसूस करत बा। राष्ट्रपति जेलेंसकी के कहनाम बा कि रूस से लड़े ला यूक्रेन के अकेला छोड़ दिहल गइल बा।

 

221820cookie-checkरूस-यूक्रेन युद्ध- एगो छोटहन विश्लेषण

ईमेल से खबर पावे खातिर सब्सक्राइब करीं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.