Khabar Bhojpuri
भोजपुरी के एक मात्र न्यूज़ पोर्टल।

रक्षा मंत्री से भईल मुलाकात में विपक्षी सांसद ‘अग्निवीर योजना’ प जतवले आपत्ति, सरकार से बहुत सवाल पूछल गईल

0 185
सीवान इन्शुरेंस 720 90

सोमार का दिने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भइल बइठक में विपक्षी सांसद सशस्त्र बल में बहाली खातिर नया अग्निपथ योजना पर चिंता जतवले. राजनाथ सिंह आज संसद में रक्षा सलाहकार समिति के बैठक के अध्यक्षता करत रहले, जवना में भाजपा के चार समेत अलग-अलग राजनीतिक दल के 12 सांसद मौजूद रहले।

ई नेता लोग एह बइठक में शामिल भइल

एह बइठक में शामिल कुछ सदस्यन में टीएमसी के सुदीप बंद्योपाध्याय आ सौगाता राय, राकांपा के सुप्रिया सुले, कांग्रेस के रजनी पाटिल, शक्ति सिंह गोहिल आ मनीष तिवारी, राजद के एडी सिंह आ भाजपा के रंजनबेन भट्ट आ राम भाई मोखरिया शामिल रहलें.

अग्निपथ योजना पर विपक्ष का आपत्ति

रक्षा सलाहकार समिति के बइठक में एकर विस्तृत प्रस्तुति भी दिहल गइल। बईठक के बाद सिंह कहले कि, बहुत निमन मुलाकात रहे। हालांकि विपक्षी दल अग्निपथ योजना प आपन आपत्ति जतवले। उ ए योजना खाती बहुत संख्या में आवेदन करे के कारण देश में ‘बड़हन बेरोजगारी’ बतवले।

सूत्र के मुताबिक विपक्ष के कहनाम बा कि देश में भारी बेरोजगारी होखे के चलते ए योजना खाती लोग भारी संख्या में आवेदन कईले बाड़े, इ महत्वपूर्ण बा। विपक्षी नेता पूछले कि सरकार एकरा के काहें नईखे संबोधित करत?

मिलल जानकारी के मुताबिक विपक्ष के कहनाम बा कि सेना एगो रणनीतिक इकाई ह अवुरी देश के सुरक्षा खाती एकर जिम्मेवारी बा। त अगर कवनो आदमी चार साल यूनिट में काम करी आ ओकरा बाद चल जाई त का गारंटी बा कि ऊ देश के सुरक्षा से समझौता ना करी. जापान के पूर्व पीएम शिंजो अबे के पूर्व सैन्य कर्मियन के हत्या एकर एगो क्लासिक उदाहरण बा|

जे सेना जादा समय तक सेवा देवेले, उ जादे प्रभावी अवुरी शक्तिशाली होखेला

सूत्र आगे विपक्षी नेता लोग के हवाला देत कहले कि रूस अवुरी यूक्रेन समेत अलग-अलग परिदृश्य में भी इ देखल गईल बा कि लंबा समय से सेवारत सेना जादे प्रभावी अवुरी शक्तिशाली होखेला, काहेंकी ओकरा के कड़ा प्रशिक्षण अवुरी उजागर कईल जाला।

सूत्र बतवले कि, विपक्ष राजनाथ सिंह से पूछले कि अस्थायी बहाली से सेना के काहें कमजोर कईल जाए? पहिला चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी लंबा समय तक बहाली के पक्ष में रहले। त अयीसन काहें बा कि सरकार देश के दिहल सलाह के पालन नईखे करत।

राजनेता के जगह सशस्त्र बल के जवान प्रेस कॉन्फ्रेंस काहे करत रहले

विपक्ष भी सरकार के आलोचना कईलस कि उ सेना के राजनीति में घसीटत बिया। संगही, सरकार से पूछल गईल कि राजनेता के जगह सशस्त्र बल के जवान प्रेस कॉन्फ्रेंस काहे करतारे।

बईठक के बाद प्रोफेसर सौगत राय कहले कि, सरकार हमनी के कवनो सवाल के जवाब ना दे पावल, एहसे विपक्ष के 6 सदस्य राजनाथ सिंह के चिट्ठी लिख के कहले कि उ देश भर में व्यापक चर्चा करस अवुरी अग्निपथ के भी संदर्भ देस .”

राजनाथ सिंह के सौगाता राय, सुदीप बंद्योपाध्याय, एडी सिंह, सुप्रिया सुले, रजनी पाटिल अवुरी शक्ति सिंह समेत विपक्ष के 6 सदस्य राजनाथ सिंह के दिहल एगो ज्ञापन प हस्ताक्षर कईले। मजेदार बात इ बा कि लोकसभा में कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी ए ज्ञापन प हस्ताक्षर ना कईले।

एह बइठक में सेना प्रमुख मनोज पाण्डेय, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार समेत तीनों सेवा के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहलें।

292110cookie-checkरक्षा मंत्री से भईल मुलाकात में विपक्षी सांसद ‘अग्निवीर योजना’ प जतवले आपत्ति, सरकार से बहुत सवाल पूछल गईल

ईमेल से खबर पावे खातिर सब्सक्राइब करीं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.