Khabar Bhojpuri
भोजपुरी के एक मात्र न्यूज़ पोर्टल।

मानसून में इयर इंफेक्शन के बढ़ जाला खतरा, जानीं वजह, लक्षण अउरी बचाव के उपाय

0 2,440
सीवान इन्शुरेंस 720 90

मानसून में बीमारियन के जोखिम बढ़ जाला। बारिश के मौसम में कई तरह के संक्रमण शरीर में आसानी से प्रवेश कर जाले सs, जेकरे कारण सर्दी, खांसी अउरी जुकाम होखल आम बात बा। लेकिन बरसात के मौसम में कुछ लापरवाही के चलते इंफेक्शन के खतरा अधिक हो जाला। फंगल इंफेक्शन अउरी सीजनल फ्लू के अलावा त्वचा, आंख अउरी कान भी प्रभावित हो जाला। एह मौसम में अक्सर कान के इंफेक्शन अधिकतर लोग के परेशान करsला। बारिश के पानी के कारण कान में तेज दर्द, कान सुन्न होखल चाहे कान संबंधी अन्य कौनों दूसर समस्या महसूस करsला। एकरे संगही कान में खुजली भी हो सकत बा। अइसे में अगर बारिश के मौसम में अगर आप भी कान के समस्या से परेशान बानीं त हो सकता बा कि आपके कान के इंफेक्शन होखे। इयर इंफेक्शन के लक्षण जान के मानसून में कान के समस्या से बचे खातिर उपाय अपना सकत बानीं।

कान में इंफेक्शन के वजह

विशेषज्ञन के मुताबिक, बारिश के मौसम में आंख, कान अउरी त्वचा से जुड़ समस्या बढ़ल जात बा। एकर कारण ह्यूमिडिटी होत बा, जौन कि फंगल इंफेक्शन के उत्पन्न करे वाला बैक्टीरिया खातिर प्रजनन स्थल हो सकत बा। कान में गंदगी अउरी ईयरबड्स के निशान भी कान के संक्रमण की वजह बन सकत बा।

कान के इंफेक्शन के लक्षण

  • कान में दर्द।
  • कान के अंदर खुजली।
  • कान के बाहरी हिस्सा लालहोखल।
  • सही से आवाज सुनाई नाइ देला।
  • कान में भारीपन महसूस होला।
  • कान से सफेद चाहे पीयर रंग के पस निकलल।

कान के संक्रमण के समस्या से बचवले के टिप्स

  • मानसून में कान में आवे वाली नमी से बचे खातिर कान के हमेशा साफ अउरी सूखा रखीं।
  • कान के पोंछे खातिर नरम कॉटन के स्वच्छ कपड़ा के उपयोग करीं। .
  • हमेशा ईयरफोन चाहे ईयरबड्स के इस्तेमाल न करीं।
302750cookie-checkमानसून में इयर इंफेक्शन के बढ़ जाला खतरा, जानीं वजह, लक्षण अउरी बचाव के उपाय

ईमेल से खबर पावे खातिर सब्सक्राइब करीं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.