Khabar Bhojpuri
भोजपुरी के एक मात्र न्यूज़ पोर्टल।

सुप्रीम कोर्ट : नयका संसद भवन के ‘शेर’ आक्रामक नाइ बा, कइसन बा, ई देखे वाले के धारणा पs निर्भर करsता

0 478
सीवान इन्शुरेंस 720 90
सुप्रीम कोर्ट सुक्क के कहलस कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत निर्माणाधीन नयका संसद भवन के ऊपर स्थापित राष्ट्रीय प्रतीक (अशोक स्तंभ) भारत के राज्य प्रतीक अधिनियम, 2005 के उल्लंघन नाइ करsता। एकरे सथही शीर्ष कोर्ट एसे संबंधित याचिका खारिज करत कहलस कि शेर कइसन लउकsता, ई देखेवाले के धारणा पर निर्भर करsला।
जस्टिस एमआर शाह अउरी कृष्ण मुरारी के पीठ ई कहत ओह जनहित याचिका के खारिज कs दिहलस, जेमें दावा कइल गइल रहे कि ई प्रतिमा भारत के राज्य प्रतीक अधिनियम, 2005 के तहत अनुमोदित राष्ट्रीय प्रतीक के डिजाइन के उल्टा बा।
346520cookie-checkसुप्रीम कोर्ट : नयका संसद भवन के ‘शेर’ आक्रामक नाइ बा, कइसन बा, ई देखे वाले के धारणा पs निर्भर करsता

ईमेल से खबर पावे खातिर सब्सक्राइब करीं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.